HomeकारोबारPF खाताधारकों के लिए 1 जून से नया नियम: ऐसा करें वरना...

PF खाताधारकों के लिए 1 जून से नया नियम: ऐसा करें वरना भारी आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ेगा

PF खाताधारकों के लिए 1 जून से नया नियम: ऐसा करें वरना भारी आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ेगा

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने अपने पीएफ खाताधारकों के लिए नियमों में कुछ बदलाव किए हैं, जो 1 जून से लागू होंगे।

भविष्य निधि (PF) खाताधारकों के लिए बड़ी खबर। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन(EPFO) ने अपने पीएफ खाताधारकों के लिए नियमों में कुछ बदलाव किए हैं, जो 1 जून 2021 से लागू होंगे। नए नियमों का पालन करने में विफल रहने से आपके ईपीएफ योगदान पर बड़ा असर पड़ेगा।

ईपीएफओ ने नियोक्ताओं को कर्मचारियों के खातों को आधार सत्यापित करने की जिम्मेदारी दी है। यदि कर्मचारी का ईपीएफ खाता आधार सत्यापित नहीं है, तो इसका मतलब यह हो सकता है कि नियोक्ता का योगदान आपके खाते में जमा नहीं किया जाएगा। इसलिए, अपने पीएफ खाते को आधार से लिंक करना सुनिश्चित करें और आपके यूनिवर्सल अकाउंट नंबर(UAN)  को भी आधार सत्यापित करने की आवश्यकता है। इस संबंध में EPFO ​​की ओर से नोटिफिकेशन भी जारी किया गया है।

ये भी पढ़े:- अपना खोया हुआ Android phone कैसे ढूंढें, इसे दूरस्थ रूप से लॉक करें और डेटा मिटाएं

नया नियम किस बारे में है?

ईपीएफओ ने सामाजिक सुरक्षा संहिता 2020 की धारा 142 के तहत एक नया फैसला लिया है। ईपीएफओ ने नियोक्ता (Company) को निर्देश दिया है कि 1 जून से अगर पीएफ खाता आधार से लिंक नहीं है या यूएएन आधार सत्यापित नहीं है, तो उसका ईसीआर (Electronic Challan cum Return) दाखिल नहीं किया जाएगा। इसका मतलब है कि हालांकि कर्मचारी अपने पीएफ खाते में योगदान देख सकते हैं, लेकिन उन्हें नियोक्ता का हिस्सा नहीं मिल पाएगा।

EPFO ने सभी एंप्लॉयर्स के लिए एक नोटिफिकेशन जारी किया है जिसमें कहा गया है कि 1 जून 2021 से अगर किसी सदस्य का पीएफ अकाउंट आधार से लिंक नहीं है तो ईसीआर फाइल नहीं करने दिया जाएगा।

साथ ही अगर पीएफ खाताधारकों के खाते आधार से लिंक नहीं होंगे तो वे ईपीएफओ की सेवाओं का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे।

ये भी पढ़े:- CBSE Class 12 बोर्ड परीक्षा 2021 रद्द: केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने दिया बड़ा संकेत

ईपीएफ को आधार से जोड़ने के लिए कदम

चरण 1: ईपीएफओ की आधिकारिक वेबसाइट – www.epfindia.gov.in पर जाएं और लॉग इन करें।

चरण 2: ऑनलाइन सेवाओं – ई-केवाईसी पोर्टल – लिंक यूएएन आधार पर क्लिक करें।

चरण 3: यूएएन खाते के साथ पंजीकृत अपना यूएएन नंबर और मोबाइल नंबर अपलोड करें।

चरण 4: आपको अपने मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी नंबर मिलेगा। ओटीपी बॉक्स में ओटीपी नंबर दर्ज करें, अपना 12 अंकों का आधार नंबर दर्ज करें और फॉर्म जमा करें। इसके बाद प्रपोज्ड टू ओटीपी वेरिफिकेशन ऑप्शन पर क्लिक करें।

चरण 5: अपने आधार विवरण को सत्यापित करने के लिए अपने आधार से जुड़े मोबाइल नंबर या मेल पर ओटीपी जेनरेट करें। वेरिफिकेशन के बाद आपका आधार आपके पीएफ अकाउंट से लिंक हो जाएगा।

ये भी पढ़े:- डॉक्टर्स एसोसिएशन जम्मू 1 जून को एलोपैथी पर Ramdev की टिप्पणी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेगा

ये भी पढ़े:- रिजर्व बैंक ने HDFC Bank पर लगाया 10 करोड़ रुपये का जुर्माना

ये भी पढ़े:- नाश्ते के लिए 7 सबसे अच्छी चीजें | The 7 Best Things to Have For Breakfas

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments